support@dalhangyanmanch.res.in

मटर के उत्पादन में रोगों के प्रकोप से गुणवत्ता और उपज मात्रा दोनों में भारी कमी होती है। कुछ पर्यावरणीय परिस्थितियाँ जैसे अधिक नमी और अनुकूल तापमान रोग पैदा करने वाले जीवों के विकास की संभावना को बढ़ा देती है। ये जीव कवक, जीवाणु, विषाणु और सूत्रकृमि हैं। उकठा, जड़ गलन चूर्णीय कवक और रतुआ मटर की प्रमुख बीमारियाँ हैं।